यूपी के मदरसों में राष्ट्रगान गाना होगा अनिवार्य, योगी सरकार के फैसले पर इलाहाबाद हाई कोर्ट की मुहर

0
85
Allahabad High Court, National Anthem, Madrasa,, इलाहाबाद उच्च न्यायालय, राष्ट्रीय गान

उत्तर प्रदेश के मदरसों में राष्ट्रगान अनिवार्य होगा. इलाहाबाद हाई कोर्ट ने योगी आदित्यनाथ सरकार के इस फैसले पर मुहर लगा दी है. बुधवार को हाई कोर्ट ने मदरसों की ओर से दायर याचिका को खारिज करते हुए राज्य सरकार के फैसले को कायम रखा है. सुनवाई के दौरान हाई कोर्ट ने साफ शब्दों में कहा कि मदरसों को राष्ट्रगान गाने से छूट नहीं दी जाएगी. साथ ही कहा कि राष्ट्रगान और तिरंगे का सम्मान संवैधानिक कर्तव्य है. इस बार 15 अगस्त को योगी सरकार ने मदरसों में राष्ट्रगान का गायन अनिवार्य कर दिया था.

साथ ही इसकी मॉनिटरिंगग के लिए इसकी वीडियाग्राफी भी कराई गई थी. सरकार के इस आदेश पर मुस्लिम संगठनों ने मुस्लिमों की देशभक्ति पर संदेह करने का आरोप लगाया था. इससे पहले सुप्रीम कोर्ट सिनेमाघरों में राष्ट्रगान का गायन अनिवार्य कर चुका है. मुख्य न्यायाधीश डी.बी. भोसले और न्यायमूर्ति यशवंत वर्मा की पीठ ने आलौल मुस्तफा द्वारा दायर इस याचिका को खारिज करते हुए कहा कि यह याचिका पूरी तरह से गलत धारणा के साथ पेश की गई है.

उत्तर प्रदेश के मदरसों में राष्ट्रगान अनिवार्य होगा. इलाहाबाद हाई कोर्ट ने योगी आदित्यनाथ सरकार के इस फैसले पर मुहर लगा दी है. बुधवार को हाई कोर्ट ने मदरसों की ओर से दायर याचिका को खारिज करते हुए राज्य सरकार के फैसले को कायम रखा है. सुनवाई के दौरान हाई कोर्ट ने साफ शब्दों में कहा कि मदरसों को राष्ट्रगान गाने से छूट नहीं दी जाएगी. साथ ही कहा कि राष्ट्रगान और तिरंगे का सम्मान संवैधानिक कर्तव्य है. इस बार 15 अगस्त को योगी सरकार ने मदरसों में राष्ट्रगान का गायन अनिवार्य कर दिया था.

साथ ही इसकी मॉनिटरिंगग के लिए इसकी वीडियाग्राफी भी कराई गई थी. सरकार के इस आदेश पर मुस्लिम संगठनों ने मुस्लिमों की देशभक्ति पर संदेह करने का आरोप लगाया था. इससे पहले सुप्रीम कोर्ट सिनेमाघरों में राष्ट्रगान का गायन अनिवार्य कर चुका है. मुख्य न्यायाधीश डी.बी. भोसले और न्यायमूर्ति यशवंत वर्मा की पीठ ने आलौल मुस्तफा द्वारा दायर इस याचिका को खारिज करते हुए कहा कि यह याचिका पूरी तरह से गलत धारणा के साथ पेश की गई है.

Source: ZeeNews

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here