इस तरह घर पर करें बालों की स्ट्रेटनिंग

0
39
इस तरह घर पर करें बालों की स्ट्रेटनिंग

बालों की स्ट्रेटनिंग – अपने बालों का ट्रीटमैंट करने से पहले यह जान लेना जरूरी है कि उनका टैक्सचर कैसा है, वे मोटे हैं या पतले, बालों में वेव कैसा है नॉर्मल है, कर्ली है या वैरी कर्ली, बालों में कुदरती नमी कितनी है, जिन बालों में कुदरती नमी कम होती है, वे कमजोर होते हैं। उन पर स्ट्रेटनिंग करते समय हाथ जल्दी-जल्दी चलने चाहिएं क्योंकि उन पर जल्दी असर होता है।

क्रीम के चुनाव का तरीका

क्रीम का चुनाव बालों के टैक्सचर के अनुसार ही करना चाहिए। यदि बाल नॉर्मल हैं और ज्यादा कर्ली नहीं हैं, तो उन पर नॉर्मल क्रीम लगाएं और यदि बाल बहुत ज्यादा फ्रिजी और कर्ली हैं, तो रैजिस्टैंट लगाना चाहिए।

चैक करने का तरीका

एक बाल खींच कर देखें कि बोंड्स टूटे हैं या नहीं। यदि नहीं टूटे हैं तो पांच मिनट के बाद फिर से चैक करें। यदि बाल खींचने पर स्प्रिंग की तरह बन जाते हैं तो बोंड्स टूट गए हैं जब बोंड्स टूट जाएं तब बालों को गुनगुने पानी से धो कर तौलिए से सुखाएं। अब छोटे-छोटे भाग बना कर कृल टैंप्रेचर में बालों की आयरनिग करें। फिर उन में बोर्ड लगा कर जल्दी-जल्दी न्यूट्रीलाइजर लगाएं।

न्यूट्रीलाइजर अच्छी तरह बालों की जड़ों में भी लगाएं। न्यूट्रीलाइजर में बालों पर कभी क्लिप न लगाएं। लगभग 8-1० मिनट तक रखने के बाद गुनगुने पानी से बालों को धो कर तौलिए से सुखा लें, इस के बाद मीडियम हीट पर पूरे बालों को ड्राई करें।

बालों में एक्स्ट्रा शाइन लाने के लिए ऑप्टीकेयर मास्क में ऑप्टी केयर सीरम मिक्स करें और बालों में उंगलियों की सहायता से लगाएं। इसे पांच मिनट तक लगा रहने दें फिर पानी से धो लें और बालों को ड्रायर से सुखा लें।

स्मूदन फिल थेरैपी –

बालों में स्मूदन फिल थेरैपी देने के लिए सब से पहले बालों को शैंपू कर तौलिए से ड्राई करें, इस के बाद दो चम्मच मास्क और सीरम का दो पंप लेकर ब्रश से अच्छी तरह मिक्स कर के बालों पर लगाएं, साथ-साथ पानी भी स्प्रे करती रहें क्योंकि बाल सूखने लगते हैं। पूरे बालों में लगाने के बाद गर्दन के पास क्लाक वाइज और एंटी-क्लाक वाइज मसाज करें, फिर धीरे-धीरे सिर की भी मसाज करें, इससे आप के बालों में शाइन आएगी।

बालों की स्ट्रेटनिंग में यह भी ध्यान रखें –

  • आयुर्वेदिक तेल लगाने से बालों पर एक कोटिग हो जाती है, जिस की वजह से रिजल्ट अच्छा नहीं आता है।
  • मेहंदी लगे बालों में भी कैमीकल का असर थोड़ा कम होता है।
  • अगर बालों में कटिग की जरूरत हो तो पहले ही कटिग करा लें।
  • स्ट्रेटनिंग के बाद मोटे दांतों वाली कंघी का प्रयोग करें।
  • स्ट्रेटनिंग के बाद 72 घंटे तक शैंपू न करें और न ही बालों को गीला करेंं।
  • बालों को कानों के पीछे न ले कर आएं, इससे उन में मोड़ आ सकता है।
  • क्लिप, क्लचर या रबड़बैंड न लगाएं, हाईनैक कपड़े पहनने से बचें।
  • कोई भी एक्सरसाइज या डांस न करें, स्कूटी न चलाएं और न ही बाइक पर बैठें।
  • 1 महीने तक बालों में तेल न लगाएं, टाइट चोटी न बनाएं, बालों को ज्यादा समय तक गीला न रखें, बालों की कटिग न करवाएं तथा मसाज या स्पा ट्रीटमैंट न लें।

यह भी पढ़ें – गिरते बालों से हैं परेशान तो… अपनाएं यह घरेलु उपचार

बालों की स्ट्रेटनिंग का तरीका

  • स्ट्रेटनिंग करने के लिए सब से पहले बालों को ऑप्टीकेयर शैंपू से धोएं, इस के बाद उन्हें तौलिए से अच्छी तरह सुखा लें।
  • अब बालों को 4 भागों में बांट कर हर भाग पर स्ट्रेटनिग क्रीम लगाएं। एक ही बार में क्रीम न निकाल कर थोड़ी-थोड़ी मात्रा में निकालें।
  • ब्रश से क्रीम थोड़ी-थोड़ी बालों में लगाएं और फिर उंगलियों से ऊपर से नीचे की तरफ मिक्स करें।
  • बालों की जड़ों में ब्रश से कभी क्रीम न लगाएं। जड़ों पर हमेशा अंगूठे से हल्के से लगाएं यदि जड़ों पर अच्छी तरह से क्रीम न लगाई जाए तो बालों में वेव आने लगते हैं।
  • स्ट्रेटनिग क्रीम हमेशा हल्के गीले बालों में ही लगाएं गीले बालों में क्रीम अच्छी तरह फैलती है।
  • क्रीम लगाते समय मैट्रिक्स कार्ड लगा कर कंघी की उल्टी साइड से बालों को स्ट्रेट करें। ऐसा हमेशा प्रोडक्ट के गीला रहने पर ही करें।
  • स्ट्रेटनिग के समय सिर न हिलाएं क्योंकि सिर हिलाने पर बालों में मोड़ या टेढ़ापन आने लगता है।
  • इसके बाद कैमीकल को हीट की जरूरत होती है ताकि गर्माहट से बोंड्स टूटें इसलिए बालों में क्लीन रैप लगाएं ताकि हीट जैनरेट हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here