जीएसटी की जानकारी कम अफवाह ज्यादा

0
398

लखनऊ। जीएसटी लागू होने के बाद भी अभी तमाम लोगों को सही जानकारी नहीं है। यह नयी व्यवस्था से कौन सा लाभ आैर कौन सा नुकसान हो सकता है। यानी क्या महंगा होगा आैर क्या सस्ता होगा। खास तौर से पेट्रोल पर जीएसटी लागू न होना जनता को असर कर रहा है। खासबात यह है कि जीएसटी से जनता को हानि कम है। लेकिन पूंजीपतियों एवं टैक्स चोरी करने वालांे को इससे काफी घाटा लगने वाला है। देश में औसतन आय वाले और कम पूूंजी वालों की संख्या अत्याधिक है। ऐसे में फिलहाल जानकारों की जो जानकारी है उसके आधार पर जीएसटी से आम जनता को फायदा मिलेगा लेकिन इसका प्रभाव अगले छह माहों में मिलेगा।

जीएसटी के बाद आम जनता को कई प्रकार के लाभ मिलेगें। इनमें से कुछ लाभों की जानकारी विशेषज्ञों ने इस प्रकार दी है।

  • 20 लाख तक के टर्नओवर वालों को जीएसटी भरने की आवश्यकता नहीं है वे आराम से अपना व्यवसाय बिना किसी चिंता के कर सकते हैं।
  • यह कि जिनका टर्नओवर 75 लाख तक है । उन्हें केवल 1 प्रतिशत जीएसटी भरना है ।
  • ना तो उन्हें महीने के चार रिटर्न भरना है और ना ही साल के 37 रिटर्न भरना है। उन्हें केवल तिमाही एवं सालाना रिटर्न ही भरना होगा। लेकिन इसके लिए आपको कंपोजीशन स्कीम लेना होगी।
  • देश के लगभग 65 से 68ः व्यापारी इन दो बिंदुओं के अंतर्गत ही आते हैं यदि ळैज् को ठीक प्रकार से समझा जाए तो छोटे और मझोले व्यापारियों के लिए इससे बढ़िया और कुछ हो ही नहीं सकता।

इन चीजों से आजादी मिलेगी ..

  1. 6 तरह के टैक्स से आजादी:-केंद्र के एक्साइज,सर्विस टैक्स, एसएडी, सीवीडी व राज्यों के वैट,सीएसटी, एंट्री और लग्झरी समेत 16 तरह के टैक्स खत्म होंगे।
  2. 150 तरह की चुंगी से आजादी:-देश के सभी राज्यों में अभी कुल मिलाकर 1 हजार 150 तरह की चुंगिया है, ये सब खत्म होंगी और पूरा देश एक बाजार बन जाएगा।
  3. टैक्स पर टैक्स से आजादी:-अभी उत्पाद की लागत के साथ-साथ केंद्र के टैक्स पर भी राज्य का टैक्स लगता है, जीएसटी में टैक्स पर टैक्स नहीं लगेगा।
  4. टैक्स ऑफिस जाने से आजादी:-सेल्स रिटर्न से लेकर क्रेडिट,रिफंड क्लेम तक सब कुछ अब ऑनलाइन होगा। रिफंड भी अब ऑनलाइन ही आएगा। तो अब से टैक्स ऑफिस का चक्कर भी खत्म।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here